बुधवार, 17 जून 2009

लहरें















































मचलती लहरों में नाव खेना या तैरना आसन नही होता








3 टिप्‍पणियां:

‘नज़र’ ने कहा…

सुन्दर दृश्य

राज भाटिय़ा ने कहा…

बहुत सुंदर

दिगम्बर नासवा ने कहा…

खूबसूरत चित्रों से सजा है आज आपका ब्लॉग.......... लाजवाब