शनिवार, 25 अप्रैल 2009

प्यास

















पक्षियों को भी लगती है प्यास । इनके लिए अपने घर में पानी रखें ।








17 टिप्‍पणियां:

सागर नाहर ने कहा…

बचपन में, गाँव में पक्षियों के लिये एक छोटे से झूले में कटोरे में पानी भर कर रखा जाता था, चिड़िया दिन पर उस में पानी पीती, नहाती और चीं-चीं का शोरगुल करती रहती थी।
अब शहरों में ना तो चिड़िया दिये वैसे छज्जे दिखते हैं।
बहुत ही बढ़िया पोस्ट है, सिर्फ चित्रों से आपने बहुत कुछ कह दिया। धन्यवाद।
॥दस्तक॥,
गीतों की महफिल,
तकनीकी दस्तक

mehek ने कहा…

sahi kaha

डॉ .अनुराग ने कहा…

सागर जी से पूरा इत्तेफाक .......

अनिल कान्त : ने कहा…

bahut hi manohari chitra hain ....waise humare bua ji ke yahan faridabad mein dana pani katore mein rakha jata hai ...chidion ke liye

समयचक्र - महेन्द्र मिश्र ने कहा…

समयचक्र: चिठ्ठी चर्चा : आपकी चिठ्ठा : मेरी चिठ्ठी चर्चा में

श्यामल सुमन ने कहा…

दिखलाया जो आपने सुन्दर सुन्दर चित्र।
सच है इन्सां जीव संग बनके रहते मित्र।।

सादर
श्यामल सुमन
09955373288
मुश्किलों से भागने की अपनी फितरत है नहीं।
कोशिशें गर दिल से हो तो जल उठेगी खुद शमां।।
www.manoramsuman.blogspot.com
shyamalsuman@gmail.com

RAJNISH PARIHAR ने कहा…

VERY NICE....

VIJAY TIWARI " KISLAY " ने कहा…

शैली
बहुत सुन्दर चित्र हैं .
चित्रों के माध्यम से आप ने अपने उद्देश्य को स्पष्ट कर दिया है.
" पक्षियों को भी लगती है प्यास । इनके लिए अपने घर में पानी रखें । "
इस भीषण गर्मी में जब हम ए सी और कूलर में दुबके रहते हैं. चिल्ड वाटर ढूंढते हैं.
बस थोडा सा कम कर ही सकते हैं की अपने घर के इर्द गिर्द अपनी दालान या छत पर दिए, कलश कुछ में भी पक्षियों के लिए पानी तो रख ही सकते हैं.
और तब आप जो शांति का अनुभव करें उसे हम से बांटिये जरूर.
- विजय

अभिषेक ओझा ने कहा…

ओह ! पहली तस्वीर दिल को छू गयी !

दिगम्बर नासवा ने कहा…

अच्छी तरह से आपने अपना मेसेज सब तक पहुंचा दिया है...................
बहूत ही सुन्दर चित्र हैं...........आपका सन्देश भी उचित है..............

Anil ने कहा…

संवेदनशील! आज ही यह काम करता हूँ!

Dileepraaj Nagpal ने कहा…

ye pyass hai badi...

विनय ने कहा…

these pictures proved that water is life.

नीरज गोस्वामी ने कहा…

नयना भिराम चित्र और बहुत सार्थक पोस्ट...वाह...
नीरज

अल्पना वर्मा ने कहा…

bahut sundar chitron se aap ne apni baat kahi...pani jeevan hai..pakshiyon ke liye garami mein paani rakhna puny ka kaam hai..

bahut achchey vichar hain aap ke..monica-keep it up!

Sachin Malhotra ने कहा…

hi dear friend...
your blog is very nice..
pls visit my blog..
http://devicedriversonline.blogspot.com/
thank you

PGDCA University of Allahabad ने कहा…

BAHUT ACHHA SANDESH DIYA HAI AAPNE.........